Russia missile attack

यूक्रेन के कई शहरों में रूस का मिसाइल हमला, सैकड़ों जानें गयीं, इमारतों से काले धुएं के गुबार

विदेश

यूक्रेन पर रूसी हमले के आठवें महीने में युद्ध तेज गति से और नए तरीके से आगे बढ़ रहा है. रूस को क्रीमिया से जोड़ने वाले कर्च पुल को जोरदार धमाके से उड़ाने के जवाब में रूस ने कीव, लीव सहित यूक्रेन के कई शहरों में एक साथ मिसाइल हमला कर दिया. इस हमले में सैकड़ों लोगों की जान चली गयी है.

यूक्रेन के कई शहर खंडहर में तब्दील हुए

यूक्रेन के चार प्रांतों के विलय की रूसी घोषणा के बाद यूक्रेन ने बीते शनिवार सुबह छह बजे के आसपास रूस को क्रीमिया से जोड़ने वाला कर्च पुल जोरदार धमाके के साथ उड़ा दिया गया, जिससे न सिर्फ सड़क मार्ग बल्कि रेलवे पुल भी तबाह हो गया. यह पुल क्रीमिया पर रूस के कब्जे का प्रतीक माना जाता है.

पुल उड़ाने का लिया बदला

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच इस पुल को उड़ाया जाना रूस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि इस पुल के रास्ते ही यूक्रेन में मौजूद रूसी सैनिकों तक विविध प्रकार की सामग्री की आपूर्ति हो रही थी. रूस ने इस पुल को उड़ाने के लिए यूक्रेन को जिम्मेदार माना था.

12 आत्मघाती इरानी ड्रोन तबाही मचाने के लिए भेजे

पुल उड़ाने का बदला रूस ने यूक्रेन के कई शहरों में एक साथ हमला करके लिया है. यूक्रेन की राजधानी कीव और लीव, डेनीप्रो, जाइटोमिर, जापोरिज्जिया सहित कई प्रमुख शहरों में अचानक तेज आवाज के साथ जोरदार धमाके हुए. रूसी सेनाओं ने इस शहरों में एक साथ मिसाइलों से हमला कर दिया.

बहुमंजिली इमारतों को बनाया लक्ष्य

कई शहरों की इमारतों से काले धुएं के गुबार निकलते देखे गए. रूस ने एक साथ 12 आत्मघाती इरानी ड्रोन यूक्रेन में तबाही मचाने के लिए भेजे थे. इन धमाकों में सैकड़ों लोगों की मौत होने की जानकारी सामने आ रही है. इसके अलावा भारी नुकसान होने की आशंका भी जताई जा रही है. रूस के हमलों से यूक्रेन के कई शहर खंडहर में तब्दील हो चुके हैं. इन हमलों में बहुमंजिली इमारतों को लक्ष्य बनाया गया था. इस कारण भी मरने वालों की संख्या ज्यादा बतायी गयी है.

रूस से निपटने के लिए जेलेंस्की जी-7 नेताओं के साथ करेंगे आपात बैठक

रूस को क्रीमिया से जोड़ने वाले कर्च पुल को जोरदार धमाके से उड़ाने के जवाब में रूसी मिसाइल हमले के बाद अब दोनों देशों के बीच युद्ध तीव्र स्वरूप ले रहा है. अब यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की ने रूस से निपटने के लिए जी-7 नेताओं के साथ आपात बैठक करने का फैसला लिया है.

पूतिन ने पुल को उड़ाने की घटना को आतंकी कृत्य करार दिया

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पूतिन ने इस पुल को उड़ाने की जांच करने वाली समिति के अध्यक्ष अलेक्जेंडर बैस्ट्रीकिन के साथ बैठक कर इस घटना को आतंकी कृत्य करार दिया. उन्होंने कहा कि इस हमले का उद्देश्य महत्वपूर्ण आधारभूत नागरिक ढांचे को नष्ट करना था.

पुल उड़ाने का बदला रूस ने यूक्रेन के कई शहरों में एक साथ हमला करके लिया है. यूक्रेन की राजधानी कीव और लीव, डेनीप्रो, जाइटोमिर, जापोरिज्जिया सहित कई प्रमुख शहरों में अचानक तेज आवाज के साथ जोरदार धमाके हुए. रूस ने एक साथ 12 आत्मघाती ईरानी ड्रोन यूक्रेन में तबाही मचाने के लिए भेजे थे. इन धमाकों में सैकड़ों लोगों की मौत होने की जानकारी सामने आ रही है.

हमें नष्ट करने और पृथ्वी से मिटाने की कोशिश कर रहा रूस : जेलेंस्की

जोरदार रूसी हमले के बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि पूरे यूक्रेन में हुए विस्फोटों में भारी जनहानि हुई है. उन्होंने कहा कि रूस हमें नष्ट करने और पृथ्वी के चेहरे से मिटा देने की कोशिश कर रहा है. इसके बाद उन्होंने जी-7 देशों की आपात बैठक करने की बात भी कही.

इस घटनाक्रम के बाद जर्मनी के चांसलर ओलाफ स्कोल्ज ने जी-7 देशों के नेताओं की आपात बैठक की बात कही थी. इस पर जेलेंस्की ने कहा कि वे जी-7 समूह की तत्काल बैठक करने के लिए स्कोल्ज की बात से सहमत हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *