Ranchi

Ranchi : रांची में टीपीसी के नाम पर रंगदारी मांगने का आरोपी गिरफ्तार

राँची

Ranchi : रांची की सुखदेवनगर थाना पुलिस ने व्यवसायियों से उग्रवादी संगठन टीपीसी के नाम पर फोन पर धमकी देकर रंगदारी की मांग करने के आरोपी करण कुमार उरांव को गिरफ्तार किया है. वह मूल रुप से हजारीबाग के बड़कागांव थाना क्षेत्र का रहने वाला है. इसके पास से पुलिस ने रंगदारी मांगने में इस्तेमाल किया गया मोबाइल और सिम कार्ड बरामद किया है.

गोपाल ऑटोमोबाइल के मालिक को दी थी धमकी

रांची (Ranchi) सिटी एसपी अंशुमान कुमार ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेस में बताया कि बीते छह नवम्बर को श्री गोपाल ऑटोमोबाइल, पेट्रोल पम्प रातू रोड के मालिक से टीपीसी के नाम पर वाट्सएप से कॉल कर धमकी देते हुए अपना परिचय टीपीसी का सदस्य बताया और कॉल बैक करने के लिए पेट्रोल पम्प के मालिक को बोला पर पेट्रोल पम्प के मालिक ने फोन कट कर दिया.

कॉल कट करने पर धमकी भरा मैसेज भेजा

इसके बाद फिर उसी नम्बर के वाट्सएप से वीडियो कॉल आया तो पेट्रोल पम्प के मालिक के द्वारा कॉल को कट कर दिया गया. इसपर उसने धमकी भरा मैसेज और एक एके 47 का फोटो और हथियारबंद व्यक्ति का फोटो भेजा. इसके बाद उस पेट्रोल पम्प के मालिक ने मामले की सूचना सुखदेवनगर थाना को दी. इस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए डीएसपी कोतवाली प्रकाश सोय के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया. टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया.

टीपीसी के नाम पर व्यवसायियों से रंगदारी मांगते थे

एसपी ने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए बताया कि वह अक्टूबर में ओरमांझी के मधुबन में बिनोद महतो से मिला. विनोद ने उसे बताया कि वह टीपीसी का सब जोनल कमांडर है. उसने कहा कि मेरे साथ काम करो बहुत सारा पैसा मिलेगा.

इसके बाद करण और बिनोद महतो कुछ और लड़कों को अपने ग्रुप में मिलाकर टीपीसी के नाम पर रांची के व्यवसायियों से वाट्सएप कॉल कर रंगदारी मांगते थे. इसके अलावा करण ने अक्टूबर महीने में पिठोरिया के फ्लाई ऐश ब्रिक्स मशीन प्लांट के मालिक से भी पांच लाख रुपये की रंगदारी मांगा था. एसपी ने बताया कि पुलिस अन्य शामिल अपराधियों का गिरफ्तार करने का के लिए छापेमारी कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *