Jharkhand republic day

Jharkhand : राज्यपाल बैस ने मोरहाबादी में व सीएम ने दुमका में फहराया तिरंगा, बोले- सरकार का प्रयास प्रदेश सर्वश्रेष्ठ राज्य बने

झारखण्ड राँची

Jharkhand : राज्यपाल रमेश बैस ने गुरुवार को रांची के मोरहाबादी मैदान में तिरंगा झंडा फहराया. वहीं पुलिस लाइन दुमका में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने तिरंगा फहराया. साथ ही परेड का निरीक्षण भी किया. इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि कृषि राज्य की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार हैं. दुर्भाग्यवश इस वर्ष सामान्य से काफी कम वर्षा होने के कारण खरीफ मौसम में रोपाई पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है.

सूखे से 30 लाख से अधिक परिवार प्रभावित

राज्यपाल ने कहा कि राज्य के 22 जिलों के 226 प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया, जहां लगभग 30 लाख से अधिक कृषक परिवारों की आजीविका प्रभावित हुई है. सरकार ने मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत प्रभावित प्रत्येक परिवार को राहत देने के लिए 3500 रुपये अनुदान राशि उपलब्ध करा रही है.

राज्य सरकार ने जन कल्याण के अनेकों कार्य किये

राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले तीन सालों में जन कल्याण के अनेकों कार्य पूरा किया है और कई नये कार्यक्रमों की शुरुआत भी की है. सरकार ने विशेषकर गरीबों, कमजोरों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों, महिलाओं की जरूरतों को ध्यान में रख कर विकास के लक्ष्य तय किये हैं. सरकार का प्रयास है कि इस कार्ययोजना के तहत आगामी कुछ वर्षों में प्रदेश को देश का सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाया जाए.

Jharkhand : चालू वित्तीय वर्ष में चार लाख योजनाएं पूरी हुई

राज्यपाल ने कहा कि मनरेगा के तहत अब तक 4.5 करोड़ मानव दिवस का सृजन किया गया है. इस वित्तीय वर्ष में चार लाख योजनाओं को पूरा किया गया और 9.75 लाख योजनाओं पर कार्य चल रहा है. सुखाड़ को देखते हुए प्रत्येक गांव में पांच योजनाओं को क्रियान्वयन किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से आंगनबाड़ी सेविका तथा सहायिका के मानदेय में बढ़ोतरी कर उसे 9500 रुपये 4750 रुपये कर दिया है.

स्वास्थ्य सुविधा को लेकर सरकार प्रयासरत

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार स्वास्थ्य सुविधा को उपलब्ध कराने के लिए सरकार निरंतर प्रयासरत है. सरकार की ओर से मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी उपचार योजना के तहत प्रभावित सुपात्र व्यक्तियों की चिकित्सा के लिए विभागीय स्तर से चिकित्सा सहायता अनुदान की राशि पांच लाख से बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दिया गया है. साथ ही असाध्य रोगों की सूची में अन्य असाध्य रोगों को सूचीबद्ध करने की स्वीकृति भी दी गयी है. इसके अलावा राज्यपाल ने सरकार के कई योजनाओं की जानकारी दी.

Jharkhand : लोकतंत्र की आधारशिला है हमारा संविधान

उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के नागरिक हैं और इस लोकतंत्र की आधारशिला हमारा संविधान है. इसमें जनहित से जुड़े हुए हर विषय का समावेश है. उन्होंने कहा कि इसमें नागरिकों के अधिकार सुनिश्चित किये गये है. देश एवं समाज के प्रति उनके कर्तव्यों एवं दायित्वों को भी उल्लेख है.

इस अवसर पर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, डीजीपी नीरज सिन्हा, गृहसचिव राजीव अरुण एक्का, डीसी राहुल कुमार सिन्हा, एसएसपी किशोर कौशल सहित राज्य सरकार के कई पदाधिकारी मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *