Fotografi

झारखंड इमेजिंग एक्स्पो’22 :  फ़ोटोग्राफ़ी को और बेहतर करने के गुर बताये गये

राँची

रांची : झारखंड फ़ोटोग्राफ़िक एसोसिएशन द्वारा आयोजित झारखंड इमेजिंग एक्स्पो’22 के दूसरे दिन रविवार को पूरे राज्य से फोटोग्राफ़रों का विशाल जमावड़ा दिखा. स्वर्णभूमि बैंकवेट्स राँची में आयोजित इस मेले में सुबह से ही विभिन्न शहरों, क़स्बों से से आए फ़ोटोग्राफ़र प्रांगण में द्वार खुलने का इंतेज़ार करते दिखे.

सीमावर्ती ज़िलों से भी लोग पहुंचे

इनमे काफ़ी संख्या बिहार तथा पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती ज़िलों से आए लोग भी मौजूद थे. दिन भर सभी स्टॉल्स में भीड़ थी. कैमरा हो या लेंसेस, स्टूडीयो इक्विपमेंट्स, प्रिंटर्ज़, सॉफ़्टवेयर, कम्प्यूटर, अल्बम मकेर्स, फ़्रेमिंग, सबलिमेशन, फ़ोटोग्राफ़ी में इस्तेमाल होने वाले प्रॉप्स सभी के नए नए वेराइटी में लोगों ने भारी दिलचस्पी ली.

राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि ने मेले को सफल बताया

राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय ब्रैंड्ज़, जिनके प्रतिनिधि यहाँ आए हुए थे, ने मेले को सफल बताया. मेले में आगंतुक फ़ोटोग्राफ़र, फ़िल्ममेकर, एडिटर और स्टूडीयो चालक सभी ने इस विशाल आयोजन को राज्य के फ़ोटोग्राफ़ी समाज के लिए बेहद ज़रूरी माना. मेले में उपस्थित मास कम्यूनिकेशन के छात्रों में भी भारी उत्साह दिखा.

कोलकाता के फ़ोटोग्राफ़र ने तेज सर्विस पर दी जानकारी

आज के कार्यक्रमों में कोलकाता से आए प्रख्यात फ़ोटोग्राफ़र श्री राजू सुलतानिया द्वारा वेडिंग फ़ोटोग्राफ़ी विषयक कार्यशाला, मो नूर आलम द्वारा सिनेमा कैमरा पर विशेष कार्यशाला  तथा जमशेदपुर के श्री गोल्डी चावला द्वारा सिनेमटोग्राफ़ी पर कार्यशाला थे.

ड्रीम मर्चेंट का फ़ैशन शो रहा विशेष आकर्षण

श्री सुलतानिया ने वेडिंग फ़ोटोग्राफ़ी को कैसे और बेहतर किया जाय, कम संसाधनों में भी अच्छी फ़ोटोग्राफ़ी के तथा ग्राहकों को तेज़ी से सर्विस देने के गुर बताए गए. उन्होंने फ़ोटोग्राफ़ी को एक सम्मानजनक पेशे के रूप में लोकप्रिय होता हुआ बताया. कार्यक्रम में विशेष आकर्षण में ड्रीम मर्चेंट द्वारा फ़ैशन शो की प्रस्तुति रही. जिसमें फोटोग्राफ़रों ने अलग- अलग कैमरे और लेंसों के इस्तेमाल से फ़ोटोग्राफ़ी कर उपकरणों के इस्तेमाल को समझा, परखा.

पेशेवर हों या शौक़िया फ़ोटोग्राफ़र आयोजन का फ़ायदा उठायें : मनोज गोराई

संगठन के अध्यक्ष श्री मनोज गोराई ने बताया कि संगठन द्वारा सालों भर अनेक वर्कशॉप, फोटोवाक आदि का आयोजन होता रहा है, पर इस प्रकार का आयोजन साल में एक बार होता है. अतः फ़ोटोग्राफ़ी के पेशेवर हों या शौक़िया फ़ोटोग्राफ़र, फ़िल्म मेकर, व्लोग़र सभी को ऐसे आयोजनों में शामिल होकर फ़ायदा उठाना चाहिए.

प्रोडक्ट्स और तकनीकों की जानकारी सुलभ हो, यही उद्देश्य : सुशांत प्रसाद

सचिव सुशांत प्रसाद ने बताया कि सभी को उन्नत प्रॉडक्ट्स और तकनीकों की जानकारी सुलभ हो इसके लिए यह आयोजन किया जाता है और इसमें प्रवेश को नि:शुल्क रखा गया है. सह कोषाध्यक्ष कौशिक मिश्रा ने कल, दिनांक 9 अक्टूबर को मेले के अंतिम दिन में भी फोटोग्राफ़रों के भारी माँग को देखते हुए कार्यशालाओं को जारी की बात बतायी.

इनका रहा सहयोग

कार्यक्रम के सफल आयोजन में मनोज गोराई, सुशांत प्रसाद, निखिल गुप्ता, कौशिक मिश्रा, गौरव भाटिया, नवीन सिन्हा, विजय कुमार, राजीव रंजन,  संजय छेत्री, बबलू, ख़ालिद, जावेद अली,  रजनीश कुमार, सुरेंद्र कुमार, मनोज साहू, संतोष विश्वास, अश्विनी कुमार, आनंद कुशवाहा, कुणाल, बनती कौशिक, टक्कु, संटू, चंद्रिका रविदास, साजिद, राकेश, ऐनुल  एवं अन्य का विशेष योगदान रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *