Congress MLAs

कांग्रेस के तीनों विधायकों के खिलाफ मनी लांड्रिंग की जांच करेगी ईडी

झारखण्ड

रांची : कांग्रेस (Congress) के विधायक डॉ. इरफान अंसारी, नमन बिक्सल कोंगाड़ी और राजेश कच्छप से जुड़े कैश कांड मामले में ईडी मनी लांड्रिंग की जांच करेगी. ईडी ने तीनों विधायकों के खिलाफ मनी लांडरिंग के तहत मामला दर्ज किया है. कैश कांड मामले की जांच कोलकाता पुलिस भी कर रही है. तीनों विधायकों के खिलाफ विधायक दल के नेता आलमगीर आलम की शिकायत पर स्पीकर के न्यायाधिकरण में भी दलबदल का मामला चल रहा है.

तीनों विधायकों को कोलकाता पुलिस ने गिरफ्तार किया था

कांग्रेस (Congress) के तीनों विधायकों को कोलकाता पुलिस ने एनएच-16 पर रानीहाटी के पास 49 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार किया था. बाद में इस मामले की जांच कोलकाता सीआईडी को ट्रांसफर कर दी थी. विधायकों पर आरोप है कि उन्होंने झारखंड की मौजूदा हेमंत सरकार को गिराने के एवज में ये रुपये लिए थे. विधायकों का तर्क था वे लोग विश्व आदिवासी दिवस पर वितरण के लिए साड़ी और फुटबॉल खरीदने जा रहे थे.

अनूप सिंह ने जीरो एफआईआर दर्ज करवाई थी

कांग्रेस (Congress) के तीनों विधायकों को गिरफ्तार के बाद 30 जुलाई को पश्चिम बंगाल के हावड़ा में रांची स्थित अरगोड़ा थाने में बेरमो से विधायक कुमार जयमंगल उर्फ अनूप सिंह ने जीरो एफआईआर दर्ज करवाई. प्राथमिकी में कहा गया था कि गिरफ्तार तीनों विधायक ने उन्हें हेमंत सरकार को गिराने के एवज में मंत्रीपद और 10 करोड़ रुपये का ऑफर दिया था.

तीनों विधायकों ने उनको कोलकाता बुलाया था, जहां से वे गुवाहाटी जाने वाले थे. गुवाहाटी में उनकी मुलाकात असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा से होनी थी. रांची पुलिस ने इस जीरो एफआईआर को कोलकाता पुलिस को ट्रांसफर कर दिया था. पश्चिम बंगाल सरकार ने मामले की जांच सीआईडी को सौंप दी थी.

कैसे हुई गिरफ्तारी

विधायक इरफान अंसारी, नमन विक्सल कोंगाड़ी और राजेश कच्छप को 30 जुलाई को पुलिस ने 49 लाख 37 हजार और 300 रुपये कैश के साथ पकड़ा. धारा 420, 120 बी, 171ई के तहत मामला दर्ज किया़ और 31 जुलाई को विधायकों को विशेष सीजीएम कोर्ट में पेश कर 10 दिनों की हिरासत में रखने का ओदश दे दिया.

31 जुलाई को ही विधायक अनूप सिंह ने अरगोड़ा थाना में जीरो एफआइआर दर्ज करायी. तीनों विधायकों को कांग्रेस आलाकमान ने निलंबित किया और दलबदल के मामले भी दर्ज हुए़. तीनों विधायक अब जमानत पर हैं लेकिन शर्त है कि वह कोलकाता छोड़कर नहीं जायेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *