Dhanbad

धनबाद जिला कांग्रेस ने संविधान दिवस मनाया

झारखण्ड धनबाद

धनबाद : धनबाद जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में जिलाध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह के नेतृत्व में जिला कांग्रेस कार्यालय में संविधान दिवस मनाया गया. मौके पर उपस्थित कांग्रेसजनों ने संविधान पर चर्चा करते हुए संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी, भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद, भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू सहित सभी महापुरुषों को याद करते हुए उनके कृतित्व व व्यक्तित्व से प्रेरणा लेने के साथ-साथ राष्ट्र की एकता और अखंडता, सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय एवं भारत के भारत के संविधान की प्रस्तावना पढ़कर सभी ने संकल्प लिया.

26 नवंबर को ही अपनाया गया था संविधान : ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह

जिलाध्यक्ष ब्रजेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि 26 नवंबर को देश में हर्षोल्लास के साथ संविधान दिवस मनाया जा रहा है, हमारे भारतीय संविधान को अपनाए जाने की याद में हर साल 26 नवंबर को देश में संविधान दिवस के तौर पर मनाया जाता है, वर्ष 1949 में संविधान सभा द्वारा भारतीय संविधान को 26 नवंबर को ही अपनाया गया था, हालांकि इसे 26 जनवरी 1950 से पूरे देश में लागू किया गया था और हर साल 26 नवंबर को पूरे देश में संविधान दिवस मनाया जाता है.

अंबेडकर जी ने भारतीय संविधान का ड्राफ्ट पूरा किया

1948 की शुरुआत में डॉक्टर अंबेडकर जी ने भारतीय संविधान का ड्राफ्ट पूरा किया और इसे संविधान सभा में प्रस्तुत किया, उसके बाद भारतीय संविधान के ड्राफ्ट में कुछ बदलाव किए गए और इसे पूरे देश ने सम्मान पूर्वक अपना लिया था, भारतीय संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ जिसे हर साल पूरा देश गणतंत्र दिवस के रूप में मनाता है.

संविधान बनाने का कार्य 1946 में संविधान सभा को दिया गया था

भारत जब एक स्वतंत्र देश बना तो इसके बाद संविधान निर्माण कार्य शुरू किया गया, संविधान बनाने का कार्य 1946 में स्थापित संविधान सभा को दिया गया था. जिसे डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता वाली एक समिति को संविधान का ड्राफ्ट तैयार का काम सौंपा गया था, 1946 में स्थापित संविधान सभा के अध्यक्ष भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद थे.

पूरे विश्व में सबसे लंबा संविधान

भारतीय संविधान को बनाए जाने में 167 दिन लगे और 11 सत्र आयोजित किए गए. भारतीय संविधान में मूल रूप से 395 अनुच्छेद 22 खंड और 8 अनुसूचियां हैं एवं संविधान में 1,45,000 शब्द है, जो कि पूरे विश्व में सबसे लंबा अपनाया गया संविधान है.

डॉ अंबेडकर, राजेंद्र प्रसाद, नेहरू जी का उल्लेखनीय योगदान

वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय कुमार सिंह ने कहा कि भारतीय संविधान निर्माण में डॉक्टर अंबेडकर जी, प्रथम राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद जी, प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी का उल्लेखनीय योगदान रहा है. आज पूरा देश 26 नवंबर को हर्षोल्लास के साथ संविधान दिवस के रूप में मना रहा है.

आज का दिन बहुत ही ऐतिहासिक : रविंद्र वर्मा

कार्यकारी अध्यक्ष रविंद्र वर्मा ने संविधान दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज का दिन बहुत ही ऐतिहासिक दिन है और संविधान निर्माण में अंबेडकर जी राजेंद्र प्रसाद नेहरु जी का उल्लेखनीय योगदान रहा है और हम सभी को इन महापुरुषों से प्रेरणा लेने की दरकार है. जिला मीडिया प्रभारी बबलू दास ने कहा कि आज पूरा देश 26 नवंबर को संविधान दिवस मना रहा है, भारतीय संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ और संविधान के निर्माण में संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी का उल्लेखनीय योगदान रहा है.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता विजय कुमार सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष रविन्द्र वर्मा, शमशेर आलम, मनोज यादव, मंटू दास, नवनीत नीरज, दिनेश सिंह, राजू दास, गोपाल कृष्ण चौधरी, जाहिर अंसारी, पप्पू कुमार तिवारी, कामता पासवान, बबलू दास, सरफुद्दीन अंसारी, पप्पू पासवान, जावेद रजा, मनोज कुमार हाडी, इम्तियाज अली, गैरूल हसन, रमेश राय, रामजी भगत, सत्यानंद पांडे, शुभ्रवरण तिवारी, रवि रंजन सिंह, माली गोप, जावेद रजा, सिकंदर-ए-आजम, अरविंद सैनी, भास्कर झा, रखाल दास, निरंजन तुरी, अप्पू दास, मधुसूदन पंडित, गोपाल दास, पवन पासवान सहित सैकड़ों कांग्रेसजन उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *