Congress

कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडेय ने कहा- झारखंड की उपलब्धियां और बदलाव के पीछे एक संघर्ष

राँची

रांची : प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडेय ने कहा कि इस राज्य में 22 वर्षों में राज्य की स्थापना और उसके बाद यहां की उपलब्धियां और बदलाव के पीछे एक संघर्ष है. अल्प आयु में ही धरती आबा बिरसा मुंडा ने संघर्ष का जो जज्बा दिखाकर विशेष जगह बनायी. उसके कारण अलग राज्य बनने के बाद से यहां जो बदलाव दिखने थे, नहीं दिखे.

सरकार के सामने विकट राजनीतिक परिस्थितियां खड़ी की जाती रहीं

अविनाश पांडेय ने कहा कि 2019 में महागठबंधन की सरकार हेमंत सोरेन के नेतृत्व में आयी. अभी उनकी अगुवाई में यह इस सरकार का तीसरा स्थापना दिवस है. नयी सरकार बनने के बाद से कोरोना संकट आया. पूरी दुनिया त्रस्त रही लेकिन इन चुनौतियों के बीच प्रदेश की जनता को इस सरकार ने भरोसा दिलाया. हालांकि, इस सरकार के सामने इन तीन वर्षों में विकट राजनीतिक परिस्थितियां भी खड़ी की जाती रहीं. अविनाश पांडेय मंगलवार को मोरहाबादी मैदान में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

सरकार को अस्थिर करने का प्रयास लगातार होता रहा

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि पांच साल के लिए चुनी गयी सरकार को अस्थिर करने का प्रयास लगातार होता रहा, लेकिन हेमंत सरकार लोक कल्याण की योजनाओं को लाने और पढ़ा लिखा युवा झारखंड तैयार करने में लगी है. आदिवासी, दलितों के हितों का जो वादा लेकर यूपीए सरकार आय़ी, वह उनके भविष्य, शिक्षा, कृषि के लिए हर स्तर पर काम कर रही है. स्कूली शिक्षा और उच्च शिक्षा तथा विशेष शिक्षा के लिए पहल की गयी है. औद्योगिकीकरण की पहल और रोजगार बढ़ाने के उपाय भी हो रहे हैं.

साथ बने अन्य राज्यों की तुलना में विशेष स्थान बनाया

उन्होंने कहा कि झारखंड के साथ बने अन्य राज्यों की तुलना में इस राज्य ने विशेष स्थान बनाया है. राजनीतिक रूप से पूरी अड़चनें लाने के बावजूद 1932 खतियान की पहचान का प्रस्ताव विधानसभा से पास कराया गया है. किसी के हितों का नुकसान किए बिना ऐसा हुआ है. विधानसभा में ओबीसी के 27 प्रतिशत आरक्षण के लिए भी वे हेमंत सरकार को बधाई देते हैं. ऐसे प्रयासों से यहां अब नया चैप्टर शुरू होने जा रहा. सरना कोड का प्रस्ताव विधानसभा से केंद्र की मंजूरी के लिए भेजा गया है. उम्मीद कि केंद्र इसे मंजूरी देगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *