CM Hemant Soren

Jharkhand : मुख्यमंत्री हेमंत ने दिए पूर्व रघुवर सरकार के पांच मंत्रियों और तीन अधिकारियों के खिलाफ जांच के आदेश, एसीबी करेगी जांच

झारखण्ड

Jharkhand :  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को रघुवर सरकार के पूर्व पांच मंत्रियों और तीन अधिकारियों के खिलाफ एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) में मामला दर्ज कर जांच का निर्देश दिया है. इनमें से चार वर्तमान में विधायक हैं. सरकार के इस निर्णय से राज्य की सियासत फिर गरमा गई है.

यह चारो वर्तमान में विधायक हैं, पूर्व मंत्री लुईस मरांडी का भी नाम

सोमवार को मुख्यमंत्री सोरेन ने जिन पूर्व मंत्रियों के खिलाफ जांच का आदेश दिया है, उनमें अमर कुमार बाउरी, रणधीर कुमार सिंह, डॉ नीरा यादव एवं नीलकंठ सिंह मुंडा के नाम शामिल हैं. यह चारो वर्तमान में विधायक हैं. इन लोगों में पूर्व मंत्री लुईस मरांडी का भी नाम है. लुईस पूर्व विधायक हैं. इनके अलावा देवघर के तत्कालीन सीओ जयवर्धन कुमार व अमर प्रसाद और रजिस्ट्रार राहुल चौबे के खिलाफ भी जांच का आदेश दिया गया है. इन सभी लोगों के विरुद्ध प्रत्यानुपातिक धनार्जन का आरोप है.

Jharkhand : गोपनीय सत्यापन प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का अनुरोध

उल्लेखनीय है कि पंकज कुमार यादव बनाम झारखंड राज्य एवं अन्य के संबंध में मंत्रिमंडल सचिवालय एवं निगरानी विभाग ने पूर्व सरकार के मंत्रियों के विरुद्ध जांच दर्ज कर गोपनीय सत्यापन प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का अनुरोध भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से किया.

Jharkhand :  एसीबी ने पीई दर्ज करने की अनुमति मांगी

इसमें भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो रांची ने पूर्व मंत्री अमर कुमार बाउरी, पूर्व मंत्री रणधीर कुमार सिंह, पूर्व मंत्री डॉ. नीरा यादव, पूर्व मंत्री लुईस मरांडी एवं पूर्व मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा पर परिवादी के लगाए गए प्रत्यानुपातिक धनार्जन के आरोप के लिए अब तक के गोपनीय सत्यापन से पुष्टि होने का उल्लेख करते हुए उनके विरुद्ध अलग-अलग प्रीमिलरी इंक्वायरी (पीई) दर्ज करने के लिए अनुमति की मांगी है.

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो रांची के सत्यापन प्रतिवेदन के उपरांत मंत्रिमंडल सचिवालय एवं निगरानी विभाग (समन्वय) ने मुख्यमंत्री से पूर्व मंत्रियों के विरुद्ध प्रत्यानुपातिक धनार्जन कि अग्रतर जांच के लिए पीई दर्ज करने के बिंदु पर अनुरोध किया गया था.

देवघर के तत्कालीन दो सीओ और रजिस्ट्रार के खिलाफ भी जांच के आदेश

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने भूमि का अवैध एलपीसी निर्गत कर निबंधन करने में संलिप्त देवघर के अमर प्रसाद तत्कालीन अंचल अधिकारी, जयवर्द्धन कुमार तत्कालीन अंचल अधिकारी एवं राहुल चौबे तत्कालीन अवर जिला निबंधक के खिलाफ भी पीई दर्ज करते हुए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से जांच कराने का निर्देश दिया है.

उल्लेखनीय है कि उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी, देवघर को इन पदाधिकारियों के विरुद्ध मौजा श्यामगंज, थाना नंबर 413, प्लॉट नंबर 240, कुल रकबा 114.78 डि. भूमि का अवैध एलपीसी निर्गत कर भू-माफियाओं के साथ मिलीभगत कर अवैध रूप से भूमि की खरीद बिक्री से संबंधित शिकायत प्राप्त हुई थी. इससे संबंधित उपायुक्त देवघर ने पर्याप्त साक्ष्य भी प्रस्तुत किए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *