Rajan Jee 1

सेवक का आचरण ही समाज में चरित्र को दर्शाता है : राजन जी महाराज

राँची

रांची : श्री राम कथा के मुख्य यजमान प्रेमचंद श्रीवास्तव, पत्नी उर्मिला श्रीवास्तव, अशोक श्रीवास्तव व यजमान सुशील गुप्ता, राजेश शर्मा ने पूरे परिवार के संग व्यास पूजन,  गुरु पूजन भजन व माल्यार्पण कर श्री राजन महाराज जी का अभिनंदन और स्वागत किया. सायं आरती मुख्य यजमान के साथ मनीष साहू व उनके परिवार के सदस्यों ने की.

भगवान केवल और केवल अपने भक्तों के कारण आते हैं

व्यास पीठ पर विराजमान परम पूज्य श्री राजन जी महाराज जी ने भगवान के प्रेम की बात को उन्होंने इस तरह समझाया कि लकड़ी के घर्षण से जब अग्नि प्रकट हो जाती है तो समझ लो प्रेम के घर्षण से भगवान प्रगट हो जाते हैं. भगवान केवल और केवल अपने भक्तों के कारण आते हैं.

राम के जन्म पर झूम उठा पंडाल 

भगवान श्री राम के जन्मोत्सव के प्रसंगों पर चर्चा की भगवान विराट रूप में प्रकट हुए. भगवान का उत्सव मनाया गया. लोगों ने भगवान के दर्शन किए. पूरा पंडाल राम के जन्म पर झूम उठा ,फूलों की वर्षा हुई, लोगों के बीच खिलौने और टॉफियों का वितरण किया गया. आज पूरा पंडाल बैलून से और फूलों से सजाया गया था.

कई लोगों ने महाराज श्री से आशीर्वाद प्राप्त किया

इसके पूर्व मंच पर मदन लखोटिया, दीपक सरावगी, संजीव विजयवर्गीय, साजन पडिया, सूरजभान सिंह,  सहित कई लोगों ने महाराज श्री से आशीर्वाद प्राप्त किया. महाराज श्री कुछ देर रुके लोगों ने महराज श्री से मिलकर उनका आशीर्वाद प्राप्त किया. आयोजन समिति के प्रवक्ता प्रमोद सारस्वत ने बताया कि कल की कथा में भगवान के बाल लीला के प्रसंग का सुंदर वर्णन सुनेंगे. श्री सारस्वत ने सभी लोगों से आग्रह किया भगवान की लीला को अवश्य सुनें.

कथा स्थल में मुख्य संयोजक प्रकाश धेलिया, संयोजक मनीष साहू, बसंत शर्मा ,नेमी अग्रवाल, मुकेश काबरा, प्रमोद सारस्वत सजन पडिया,दीपक पाठक,  दीपक सराओगी, बनवारी राजू पोद्दार, जितेंद्र सिंह,  राजू यादव आशुतोष दिवेदी सहित काफी संख्या में सदस्य अपनी सेवा दे रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *